मंगलवार, 28 दिसंबर 2021

कोरोना वैक्सीन के बूस्टर डोज़ या तीसरी खुराक के बारे मे जानकारी

कोरोना वैक्सीन के बूस्टर डोज़ या तीसरी खुराक के बारे मे जानकारी: पिछले सालों मे कोरोना महामारी ने भारत देश मे जमकर कोहराम मचाया और इससे कई लोगों की जानें गई बहुत से लोगों ने अपनों को खो दिया और भारत देश समेत पूरे विश्व को आर्थिक तंगी से गुजरना पड़ा इस महामारी के आने के बाद कई लोगों के काम बंद हुये कई लोगों के बिज़नस व नौकरी पर इसका असर हुआ ऐसे मे जब स्थिति को सुधारने के लिए भारत सरकार ने कई प्रकार के कड़े कानून बनाए और लोगों की सुरक्षा के लिए कई प्रकार के कदम उठाए पूरे भारत देश मे लंबे समय तक लॉकडाउन किया गया और सभी लोगों को कोरोना covid-19 गाइड लाइन का पालन करने की सलाह दी गई। 

सरकार, डॉक्टर की टीम, वैज्ञानिक, फ्रंट लाइन वर्कर एवं हर सामान्य नागरिक की पहल से इस बीमारी से लड़ने की हर संभव कोशिश की गई और की जा रही है क्योंकि यह महामारी अभी भी खत्म नहीं हुयी है और हालही मे आए कोरोना के नए वेरिएंट ओमिक्रोन ने लोगों के दिलों मे फिर से डर का माहौल बना दिया है  सभी लोगों को कोरोना महामारी से बचने के लिए वैक्सीन लगाई जा रही है ज़्यादातर स्थानों पर कोरोना वैक्सीन के दोनों टीके लगाए जा चुके हैं और बचे हुये लोगों को कोरोना की खुराक के रूप मे टीके लगाए जा रहे हैं हालही मे यह रिपोर्ट आई है की अब भारत मे 15 से 18 वर्ष के बच्चों को भी टीकाकरण का लाभ मिलेगा वहीं दूसरी ओर बुजुर्गों को कोरोना वैक्सीन की तीसरी खुराक के रूप मे बूस्टर डोज़ दिया जाएगा आइए इसके बारे मे डीटेल मे समझते हैं। 

कोरोना वैक्सीन के बूस्टर डोज़ या तीसरी खुराक के बारे मे जानकारी: पिछले सालों मे कोरोना महामारी ने भारत देश मे जमकर कोहराम मचाया और इससे कई लोगों की जानें गई बहुत से लोगों ने अपनों को खो दिया और भारत देश समेत पूरे विश्व को आर्थिक तंगी से गुजरना पड़ा इस महामारी के आने के बाद कई लोगों के काम बंद हुये कई लोगों के बिज़नस व नौकरी पर इसका असर हुआ ऐसे मे जब स्थिति को सुधारने के लिए भारत सरकार ने कई प्रकार के कड़े कानून बनाए और लोगों की सुरक्षा के लिए कई प्रकार के कदम उठाए पूरे भारत देश मे लंबे समय तक लॉकडाउन किया गया और सभी लोगों को कोरोना गाइड लाइन का पालन करने की सलाह दी गई।   सरकार, डॉक्टर की टीम, वैज्ञानिक, फ्रंट लाइन वर्कर एवं हर सामान्य नागरिक की पहल से इस बीमारी से लड़ने की हर संभव कोशिश की गई और की जा रही है क्योंकि यह महामारी अभी भी खत्म नहीं हुयी है और हालही मे आए कोरोना के नए वेरिएंट ओमिक्रोन ने लोगों के दिलों मे फिर से डर का माहौल बना दिया है  सभी लोगों को कोरोना महामारी से बचने के लिए वैक्सीन लगाई जा रही है ज़्यादातर स्थानों पर कोरोना वैक्सीन के दोनों टीके लगाए जा चुके हैं और बचे हुये लोगों को कोरोना की खुराक के रूप मे टीके लगाए जा रहे हैं हालही मे यह रिपोर्ट आई है की अब भारत मे 15 से 18 वर्ष के बच्चों को भी टीकाकरण का लाभ मिलेगा वहीं दूसरी ओर बुजुर्गों को कोरोना वैक्सीन की तीसरी खुराक के रूप मे बूस्टर डोज़ दिया जाएगा आइए इसके बारे मे डीटेल मे समझते हैं।   कोरोना वैक्सीन के बूस्टर डोज़ या तीसरी खुराक के बारे मे जानकारी  हालही मे प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जी द्वारा यह घोषणा की गई है की कोरोना वाइरस का संक्रमण अभी पूरी तरह से समाप्त नहीं हुआ है और इस बीमारी से बचने के लिए सार्वजनिक स्थानों पर न जाएँ, मास्क पहने, सेनेटाइजर का उपयोग करें, अपना नंबर आने पर वैक्सीन जरूर लगवाएँ इन सामान्य बातों के अलावा पीएम मोदी ने बताया की अब भारत मे 15 से 18 साल के बच्चों को कोरोना के संक्रमण एवं नए वेरिएंट ओमिक्रोन से बचाने के लिए जल्द ही टीकाकरण शुरू किया जाएगा जिसकी शुरुआत साल 2022 मे हो जाएगी एवं इसके अलावा बुजुर्गों को बूस्टर डोज़ के रूप मे तीसरी खुराक दी जाएगी।   क्या बच्चों को कोरोना वैक्सीन या टीका लगेगा?  हालही मे भारत सरकार के द्वारा यह निर्णय लिया गया है की अब भारत मे 15-18 वर्ष के बच्चों को भी कोरोना वेक्सीन दी जाएगी और इसकी शुरुआत जनवरी माह मे हो जाएगी इसके लिए बच्चों को पहले ही ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन करना होगा एवं रजिस्ट्रेशन का कार्य बच्चों के पेरेंट्स कर सकते हैं ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन की प्रक्रिया पहले की तरह ही होगी जहां आप आरोग्य सेतु जैसे एप का यूज कर फ्री मे रजिस्ट्रेशन कर सकते हैं।   छोटे बच्चों का न तो ड्राइविंग लाइसेन्स होता है और न ही वोटर आईडी ऐसे मे आप आइडेंटि के लिए आधार कार्ड का उपयोग कर सकते हैं यदि किसी बच्चे का आधार कार्ड नहीं बना है तो आप उसे बनवा लें इसके अलावा पेरेंट्स अपने मोबाइल नंबर का उपयोग रजिस्ट्रेशन के लिए कर सकते हैं क्योंकि एक मोबाइल नंबर से आप चार लोगों का रजिस्ट्रेशन कर सकते हैं।   कोरोना वैक्सीन की तीसरी खुराक या बूस्टर डोज़   हाल ही मे भारत सरकार के द्वारा यह निर्णय लिया गया है की 60 वर्ष की आयु से अधिक वाले लोगों के लिए एक तीसरी डोज़ को लाया गया है जिसे बूस्टर डोज़ कहा जा रहा है इस तीसरे डोज़ से कई प्रकार के फायदे हैं कोरोना के नए वेरिएंट ओमिक्रोन के लिए यह कारगर तो है ही साथ मे यह वैक्सीन बुजुर्गों को सामान्य रूप से होने वाली बीमारियाँ जैसे खांसी, सर्दी जुकाम, बुखार, कमजोरी आदि से छुटकारा दिला सकती है और यह बूस्टर डोज़ बुजुर्गो के इमुनिटी सिस्टम को बूस्ट करने एम सहायक होगी।   कोरोना की तीसरी डोज़ किसे लगेगी?  कोरोना की तीसरी डोज़ की खबर आने के बाद अब कई लोग इसके बारे मे जानने की कोशिश कर रहे हैं कई लोग नहीं जानते हैं की कोरोना की तीसरी खुराक किसे दी जाएगी तो आपकी जानकारी के लिए बता दें कोरोना की तीसरी डोज़ केवल 60 वर्ष से अधिक के लोगों के लिए है क्योंकि इस उम्र मे लोगों को कई प्रकार की समस्याएँ होने लगती है और इस उम्र मे सीनियर सिटीजन या कई बुजुर्गों का इम्यून सिस्टम कमजोर हो जाता है जिससे कई प्रकार की बीमारियाँ जैसे सर्दी, खांसी, बुखार उन्हे घेर लेता है लेकिन यह तीसरी डोज़ इस प्रकार की समस्या को दूर करने मे कारगर है इसलिए जल्द ही तीसरी डोज़ को शुरू किया जाएगा।   कोरोना वैक्सीन की तीसरी डोज़ कब लगेगी?  यदि आप कोरोना की दो डोज़ दोनों खुराक ले चुके हैं तो आपको चिंता करने की कोई आवश्यकता नहीं है लेकिन यदि आप 60 वर्ष से अधिक हैं या आपके घर परिवार या आपके आसपास कोई बुजुर्ग है जो 60 साल से ऊपर है उन्हे कोरोना की तीसरी खुराक दूसरी खुराक के 90 दिनों के बाद दी जाएगी और यह तीसरी खुराक आपके इम्यून सिस्टम को मजबूत बनती है और आपको संक्रमण से लड़ने की ताकत प्रदान करते हैं। कोरोना वैक्सीन की तीसरी डोज़ दूसरी डोज़ लगने के 90 दिनों के बाद लगाई जाएगी औरयाह अभी केवल बुजुर्गों के लिए उपलब्ध है जिसकी शुरुआत साल 2022 मे जनवरी से हो जाएगी।   क्या कोरोना वैक्सीन की तीसरी खुराक ओमिक्रोन पर असरदार है?  जैसा की आप जानते हैं कोरोना का नया वेरिएंट ओमिक्रोन इस समय चर्चा का विषय बना हुआ है और कई लोगों को ऐसा लग रहा है की यह कोरोना की तीसरी लहर का कारण बन सकता है लेकिन आपकी जानकारी के लिए बता दें इससे किसी को घबराने के जरूरत नहीं है आप बस कोरोना गाइड लाइन का पालन करें, मास्क लगाएँ, साफ सफाई रखें, अपने हाथों को सेनेटाइजर से साफ करें, जरूरत होने पर घर से बाहर निकलें इसके अलावा अपना नंबर आने पर वैक्सीन जरूर लें।   इसके अतिरिक्त इसकी तीसरी डोज़ जिसके लिए उपलब्ध होगी उन्हे जरूर लेना चाहिए ओमिक्रोन जैसे वायरस से लड़ने के लिए और रोग प्रतिरोधक क्षमता बढ़ाने के लिए यह एक कारगर डोज़ है जो आपको कई प्रकार के संक्रमण से बचा सकता है इसके अलावा आप अपने आसपास के बड़े बुजुर्गों को इस बारे मे जानकारी दे सकते हैं और वेक्सीन लेने की सलाह दे सकते हैं जिससे सभी को लाभ हो सकता है।   यहाँ दी गई कोरोना वैक्सीन के बूस्टर डोज़ या तीसरी खुराक के बारे मे जानकारी आप अपने दोस्तों और परिवार वालों के साथ भी साझा कर सकते हैं इसके अतिरिक्त आप अपना और अपनों का ख्याल रखे एवं पेनीक न करें मुसीबत का डटकर सामना करें उम्मीद है यह जानकारी आपको पसंद आई होगी।


कोरोना वैक्सीन के बूस्टर डोज़ या तीसरी खुराक के बारे मे जानकारी


हालही मे प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जी द्वारा यह घोषणा की गई है की कोरोना वाइरस का संक्रमण अभी पूरी तरह से समाप्त नहीं हुआ है और इस बीमारी से बचने के लिए सार्वजनिक स्थानों पर न जाएँ, मास्क पहने, सेनेटाइजर का उपयोग करें, अपना नंबर आने पर वैक्सीन जरूर लगवाएँ इन सामान्य बातों के अलावा पीएम मोदी ने बताया की अब भारत मे 15 से 18 साल के बच्चों को कोरोना के संक्रमण एवं नए वेरिएंट ओमिक्रोन से बचाने के लिए जल्द ही टीकाकरण शुरू किया जाएगा जिसकी शुरुआत साल 2022 मे हो जाएगी एवं इसके अलावा बुजुर्गों को बूस्टर डोज़ के रूप मे तीसरी खुराक दी जाएगी। 

क्या बच्चों को कोरोना वैक्सीन या टीका लगेगा?


हालही मे भारत सरकार के द्वारा यह निर्णय लिया गया है की अब भारत मे 15-18 वर्ष के बच्चों को भी कोरोना वेक्सीन दी जाएगी और इसकी शुरुआत जनवरी माह मे हो जाएगी इसके लिए बच्चों को पहले ही ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन करना होगा एवं रजिस्ट्रेशन का कार्य बच्चों के पेरेंट्स कर सकते हैं ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन की प्रक्रिया पहले की तरह ही होगी जहां आप आरोग्य सेतु जैसे एप का यूज कर फ्री मे रजिस्ट्रेशन कर सकते हैं। 

छोटे बच्चों का न तो ड्राइविंग लाइसेन्स होता है और न ही वोटर आईडी ऐसे मे आप आइडेंटि के लिए आधार कार्ड का उपयोग कर सकते हैं यदि किसी बच्चे का आधार कार्ड नहीं बना है तो आप उसे बनवा लें इसके अलावा पेरेंट्स अपने मोबाइल नंबर का उपयोग रजिस्ट्रेशन के लिए कर सकते हैं क्योंकि एक मोबाइल नंबर से आप चार लोगों का रजिस्ट्रेशन कर सकते हैं। 

कोरोना वैक्सीन की तीसरी खुराक या बूस्टर डोज़ 


हाल ही मे भारत सरकार के द्वारा यह निर्णय लिया गया है की 60 वर्ष की आयु से अधिक वाले लोगों के लिए एक तीसरी डोज़ को लाया गया है जिसे बूस्टर डोज़ कहा जा रहा है इस तीसरे डोज़ से कई प्रकार के फायदे हैं कोरोना के नए वेरिएंट ओमिक्रोन के लिए यह कारगर तो है ही साथ मे यह वैक्सीन बुजुर्गों को सामान्य रूप से होने वाली बीमारियाँ जैसे खांसी, सर्दी जुकाम, बुखार, कमजोरी आदि से छुटकारा दिला सकती है और यह बूस्टर डोज़ बुजुर्गो के इमुनिटी सिस्टम को बूस्ट करने एम सहायक होगी। 

कोरोना की तीसरी डोज़ किसे लगेगी?


कोरोना की तीसरी डोज़ की खबर आने के बाद अब कई लोग इसके बारे मे जानने की कोशिश कर रहे हैं कई लोग नहीं जानते हैं की कोरोना की तीसरी खुराक किसे दी जाएगी तो आपकी जानकारी के लिए बता दें कोरोना की तीसरी डोज़ केवल 60 वर्ष से अधिक के लोगों के लिए है क्योंकि इस उम्र मे लोगों को कई प्रकार की समस्याएँ होने लगती है और इस उम्र मे सीनियर सिटीजन या कई बुजुर्गों का इम्यून सिस्टम कमजोर हो जाता है जिससे कई प्रकार की बीमारियाँ जैसे सर्दी, खांसी, बुखार उन्हे घेर लेता है लेकिन यह तीसरी डोज़ इस प्रकार की समस्या को दूर करने मे कारगर है इसलिए जल्द ही तीसरी डोज़ को शुरू किया जाएगा। 

कोरोना वैक्सीन की तीसरी डोज़ कब लगेगी?


यदि आप कोरोना की दो डोज़ दोनों खुराक ले चुके हैं तो आपको चिंता करने की कोई आवश्यकता नहीं है लेकिन यदि आप 60 वर्ष से अधिक हैं या आपके घर परिवार या आपके आसपास कोई बुजुर्ग है जो 60 साल से ऊपर है उन्हे कोरोना की तीसरी खुराक दूसरी खुराक के 90 दिनों के बाद दी जाएगी और यह तीसरी खुराक आपके इम्यून सिस्टम को मजबूत बनती है और आपको संक्रमण से लड़ने की ताकत प्रदान करते हैं। कोरोना वैक्सीन की तीसरी डोज़ दूसरी डोज़ लगने के 90 दिनों के बाद लगाई जाएगी औरयाह अभी केवल बुजुर्गों के लिए उपलब्ध है जिसकी शुरुआत साल 2022 मे जनवरी से हो जाएगी। 

क्या कोरोना वैक्सीन की तीसरी खुराक ओमिक्रोन पर असरदार है?


जैसा की आप जानते हैं कोरोना का नया वेरिएंट ओमिक्रोन इस समय चर्चा का विषय बना हुआ है और कई लोगों को ऐसा लग रहा है की यह कोरोना की तीसरी लहर का कारण बन सकता है लेकिन आपकी जानकारी के लिए बता दें इससे किसी को घबराने के जरूरत नहीं है आप बस कोरोना गाइड लाइन का पालन करें, मास्क लगाएँ, साफ सफाई रखें, अपने हाथों को सेनेटाइजर से साफ करें, जरूरत होने पर घर से बाहर निकलें इसके अलावा अपना नंबर आने पर वैक्सीन जरूर लें। 

इसके अतिरिक्त इसकी तीसरी डोज़ जिसके लिए उपलब्ध होगी उन्हे जरूर लेना चाहिए ओमिक्रोन जैसे वायरस से लड़ने के लिए और रोग प्रतिरोधक क्षमता बढ़ाने के लिए यह एक कारगर डोज़ है जो आपको कई प्रकार के संक्रमण से बचा सकता है इसके अलावा आप अपने आसपास के बड़े बुजुर्गों को इस बारे मे जानकारी दे सकते हैं और वेक्सीन लेने की सलाह दे सकते हैं जिससे सभी को लाभ हो सकता है। 

यहाँ दी गई कोरोना वैक्सीन के बूस्टर डोज़ या तीसरी खुराक के बारे मे जानकारी आप अपने दोस्तों और परिवार वालों के साथ भी साझा कर सकते हैं इसके अतिरिक्त आप अपना और अपनों का ख्याल रखे एवं पेनीक न करें मुसीबत का डटकर सामना करें उम्मीद है यह जानकारी आपको पसंद आई होगी।  

0 टिप्पणियाँ: