रविवार, 26 जनवरी 2020

Search Engine क्या है? और यह कैसे काम करता है?

Search Engine क्या है? और यह कैसे काम करता है?  ब्लॉग्गिंग की field में इसका पता होना बहुत जरुरी है। Search इंजन में Top पर Rank करने करने के लिए हम अपने द्वारा लिखे Article में कई प्रकार से SEO करते हैं हर एक Bloger अपनी पोस्ट को Search इंजन में Top पर देखना चाहता है, जिसके लिए वह Different type के प्रयत्न करता है। 

ऐसे में सभी के मन में यह Question जरूर आता है आखिर What is search engine in hindi language? 

आज हम इस Article की Help से जानेंगे की Search Engine क्या होता है? और यह कैसे काम करता है? अगर आप भी Search Engine से सम्बंधित Information को जानना चाहते है तो इस Article को शुरू से लेकर अंत तक पूरा पढ़े।


Search Engine क्या है और यह कैसे काम करता है
Search Engine क्या है? और यह कैसे काम करता है?



Search Engine क्या है? और यह कैसे काम करता है? हिन्दी में  


Search Engine
असल में एक Software Program है, जो crowlers या bots  की Help से Information को Internet से  खोज कर हमारे सामने प्रस्तुत करता है। 


What is search engine full Detail in Hindi


जब भी हम किसी Information को Online प्राप्त करना चाहते है तो हम सबसे ज्यादा Google Search करते हैं, Google सबसे Popular Search Engine है, Google का उपयोग बहुतायत में किया जाता है इसके आलावा Yahoo Bing जैसे कई सारे Search Engine Internet के दुनिया में अवेलेबल है।

Search Engine हमें वेब pages में उपस्थित Data को हम तक पहुंचता है, जैसा कि आप जानते है Internet पर बहुत अधिक मात्रा में Information और Data उपस्थित है लेकिन Search Engine के माध्यम से हमें हमारी जरुरत के अनुसार सही Data प्राप्त होता है।   


Search Engine कैसे काम करता है?


Search Engine हमारे द्वारा इनपुट के रूप में दिए keyword के अनुसार बहुत सारी Information result के रूप में Provide करता है और प्राप्त result से हम किसी भी Information को रीड कर सकते हैं। 

जैसा कि आप जानते हैं:-

जब भी हम Google के Search बॉक्स में किसी कीवर्ड को search करते हैं तो हमें कुछ हि समय में बहुत सारे Result मिल जाते है और ये प्राप्त result हमें google के कमाल के algorithm के कारण मिलते हैं।

ये result हमें कई websites से प्राप्त होता है, जो हमारे कीवर्ड से कही कहीं जुड़ा होता है और उसकी हमें जरुरत होती है, google हमारे keyword के अनुसार यह सुनिश्चित करता है कि हमें किस website में यह Information मिल सकती है। 

जब हम किसी Shop पर जाते हैं तो वहा हमें बहुत अधिक मात्रा में सामान दिखाई देता है, but हम जैसे हि shop keeper से अपनी need का सामन मांगते है वह हमें need का सामान लाकर दे देता है। ठीक उसी प्रकार Search इंजन हमारे द्वारा keyword देने पर हमें जरुरत के अनुसार Result दिखाता है। 


Search Engine मुख्यतः तीन Step में कार्य करता है। 


  1. Crawling 
  2. Indexing 
  3. Retrieval 

Step 1. Crawling 

Search Engine सबसे पहले Crawling करते है 

जैसे हि हम google yahoo Bing आदि पर Search करते हैं  तब Search Engine के Crawlers रिलेटेड blogs या websites पर पहुंचकर उसे analysis कर Search result के रूप में प्रस्तुत करते है। 

चूँकि यह एक प्रकार की programming method है इसलिए इसकी स्पीड बहुत ज्यादा होती है इसलिए आपको कुछ हि समय में बहुत से result प्राप्त होते है। 

यह Search इंजन में इंडेक्स Result को find कर result दिखाता हैइसलिए आप अपने द्वारा लिखे article को google में जरूर index करें।  

यदि google की बात करें तो यदि आपकी website या blog google के search engine में प्रस्तुत होने के क्रिटेरिया को पूरा करते है, तो ही वह Search Engine में Rank होगी और यह कई factor पर depend करता है। 

जो website या blog, google में इंडेक्स हो और जिनका site map भी index होता है उन्हें crawlers को find कर search engine में दिखाने में ज्यादा प्रॉब्लम नहीं होती है। 


Step 2. Indexing

  
जैसे हि crawlers internet पर उपस्थित सभी Data को visit कर लेते हैं उसके बाद indexing का कार्य होता है यहाँ पर वो सारी website और blog को index किया जाता है, जहा keyword से जुडी information होती है। 

जिस भी blog या website पर अच्छा content होगा जिसमे Information सही और सटीक होगी उसके SERP (Search Engine Result Page) में Rank होने के चान्सेस ज्यादा होते है। 

जिस Blog या वेबसाइट में ऐसा कंटेंट हो जो Google के अल्गोरिथम को follow करता हो उसके Google में Rank होने के चान्सेस बहुत ज्यादा होते है, यदि केवल Google की बात करे तो यहां 200 से अधिक फैक्टर है जो ranking को decide करता है। 

यह है कुछ खास तथ्य जिनसे Blog या वेबसाइट की रैंकिंग decide होती है:-

  • On-page SEO 
  • Off-page SEO
  • Age of website
  • High Quality Content
  • Backlink

Example:-

मान लीजिये मैंने google पर SEO लिखकर search किया SERP में मुझे वो Result Top पर दिखाई देगा जिस Blog या वेबसाइट में SEO से रिलेटेड सारी Information उपलब्ध होगी। और यह भी तय है की वह website सही content provite करती होगी। 

इस website की age भी ज्यादा होगी और इस पर SEO भी अच्छा किया गया होगा इस प्रकार से अन्य सभी Result दिखाई देंगे। 


Step 3. Retrieval


इस method के अंतर्गत user की समस्या को समझा जाता है और उसकी समस्या के अनुसार उसे result दिखाया जाता है। 

इसी के कारण हम जैसे ही किसी keyword को Google के Search बॉक्स में टाइप करते है Google हमें कुछ ही सेकेंड में लाखो Result दिखा देता है। 

यह सब इसी retrieve method के कारण संभव होता है। 


Conclusion 


technology के इस दौर में आज हम सभी Internet का भरपूर उपयोग कर रहे है Google आज के दौर में सबसे बड़ा Search इंजन है और इसका ज्यादातर उपयोग किया जाता है। google का उपयोग हम अपने devices जैसे मोबाइल, कंप्यूटर लैपTop आदि से browser के माध्यम से करते हैं। 

हम Google Search Engine का अक्सर उपयोग करते हैं और यदि जब कोई नई वेबसाइट या Blog बनाता है तो वह हमेशा यह चाहेगा की उसका Blog या वेबसाइट Google में Top पोजीशन Rank हो और इसके लिए सभी कोशिश करते हैं। 

आज हमने इस Article कि Help से जाना की search engine kya hai? 

उम्मीद है तो दोस्तों यह Information Search Engine kya hai ? aur iske prakar आपको जरूर पसंद आयी होगी यदि आपका कोई Question या सुझाव है तो आप हमें Comment कर सकते है। 


0 टिप्पणियाँ: