Friday, August 16, 2019

HIGH-QUALITY CONTENT क्या है? और उन्हें कैसे लिखना है?

HIGH-QUALITY CONTENT क्या हैऔर उन्हें कैसे लिखना हैHIGH-QUALITY वाले CONTENT क्या होते है? और इन्हे कैसे लिखा जाता है? यह सवाल अक्सर सभी ब्लोगर के दिमाग में चलता रहता है। और क्या एक अच्छी QUALITY के CONTENT से BLOG या WEBSITE पर ट्रैफिक GENERATE किया जा सकता है। आज इन सभी सवालों का जवाब आपको इस ARTICLE के माध्यम से मिल जाएगा। आप इस ARTICLE को शुरू से लेकर अंत तक जरूर पढ़ें। 



हम सभी जानते है , हमारे BLOG या वेबपेज की पहचान उसके CONTENT द्वारा ही होती है. यदि हमारे द्वारा पब्लिश किया जा रहा CONTENT लोगो को पसंद रहा है और वह इसे SOCIAL MEDIA पर काफी मात्रा में SHARE कर रहे है तो इसका मतलब है आपके CONTENT की क्वालिटी अच्छी है तो इसे हम High Quality Content कहते है और यदि लोग हमारे CONTENT को पसंद नहीं कर रहे तो वह CONTENT Low Quality Content कहलाता है.

HIGH-QUALITY CONTENT क्या है? और उन्हें कैसे लिखना है? TECHNICAL WORLD HINDI


HIGH-QUALITY वाली CONTENT क्या है? और उन्हें कैसे लिखना है?

 तो दोस्तों, आज इस BLOG के माध्यम से हम HIGH-OUALITY वाली CONTENT  के बारे में जानेंगे और जानेंगे कि हम उन्हें कैसे लिख सकते हैं, इसलिए दोस्तों, इस ARTICLE को शुरू से अंत तक पढ़ें और जानें कि HIGH-OUALITY की CONTENT क्या है और उन्हें कैसे लिखना है।

 दोस्तों, इस समय में BLOGING के क्षेत्र में दो तरह की राय है, जिसमें कुछ लोगों का मानना ​​है कि BLOGING में अधिक CONTENT होनी चाहिए, चाहे उसकी OUALITY अच्छी हो या हो। और कुछ लोग कहते हैं कि CONTENT की OUALITY अच्छी होनी चाहिए, भले ही उसकी लंबाई कम हो।

तो दोस्तों, इस BLOG पोस्ट की मदद से हम जानेंगे कि हमें किस तरह का आर्टिकल लिखना चाहिए जो लंबा हो या जिसमें क्वालिटी अच्छी हो।

दरअसल, ARTICLE सिर्फ आपके BLOG पर लिखी गई पोस्ट नहीं है, बल्कि Google की खोज में आने वाली एक पोस्ट है, इसलिए हमें एक बात का ध्यान रखना चाहिए कि जो कोई भी इस पोस्ट को पढ़ता है, उसे उस पोस्ट को समझने में कोई परेशानी नहीं होनी चाहिए। और पोस्ट के बारे में जो जानकारी है, वह जानकारी READER को अच्छी तरह समझ आनी चाहिए। तभी आपके द्वारा लिखा गया ARTICLE सफल माना जाएगा। यह आवश्यक नहीं है कि आपने कितना लिखा है या आपने क्या लिखा है, यह आवश्यक है कि आप जो कुछ भी लिखते हैं उसे READER द्वारा समझा जाना चाहिए।

आइए समझते हैं कि OUALITY CONTENT क्या है?


 यदि आपके द्वारा लिखा गया ARTICLE Google के एल्गोरिथम के माध्यम से Google के खोज इंजन में दिखाई देने लगता है, तो Google केवल उन्हीं लेखों को प्राथमिकता देता है, जो उस उद्देश्य के लिए बनाए जाते हैं जिसे READER समझ सकता है। यदि आपका BLOG किसी व्यवसाय का उद्देश्य बना हुआ है और आप किसी व्यवसाय से संबंधित ARTICLE लिखते हैं और उसे इसके बारे में पूरी जानकारी है, तो आपके ARTICLE की संभावना Google में रैंक करने के लिए अधिक है। तो इस तरह से, पूरी जानकारी से भरे ARTICLE को OUALITY CONTENT कहा जाता है।

 यदि आपने अपने ARTICLE में ऐसी जानकारी दी है कि कोई व्यक्ति वास्तव में इसे पढ़कर लाभान्वित होता है, या आपके ARTICLE द्वारा दी गई जानकारी को पढ़कर, लोगों को इसे अपने जीवन में लागू करना चाहिए और वे वास्तव में इससे लाभान्वित होते हैं, तो उस प्रकार की CONTENT को OUALITY CONTENT कहा जाता है

 HIGH OUALITY की CONTENT

 जब यह HIGH-OUALITY वाली CONTENT की बात आती है, यदि आप एक BLOGर हैं और आप अपने BLOG पर एक दैनिक ARTICLE डालते हैं या आपके पास एक YouTube चैनल है और आप इसमें एक दैनिक वीडियो डालते हैं, तो आपको HIGH-OUALITY वाली CONTENT लिखना और वीडियो बनाना होगा इस पर। आपको बहुत मेहनत करनी होगी ताकि अधिकतम दर्शक या अधिकतम READER आपके BLOG या YouTube चैनल पर आएं।

विषय पर ध्यान दें

यदि आपका BLOG किसी विषय से संबंधित है और उस विषय से संबंधित जानकारी दी जा रही है। और वह जानकारी बिलकुल सही है जिसे READER पसंद करता है, फिर धीरे-धीरे आपका BLOG लोगों द्वारा पसंद किया जाएगा।

और आपके BLOG पर ऑटोमैटिक ट्रैफिक भी धीरे-धीरे बढ़ता जाएगा। और लोग उस ARTICLE को खुद भी साझा करेंगे। जिससे आपकी BLOG वेबसाइट को बहुत अधिक ट्रैफिक मिलता है।


 ब्रांड प्रतिष्ठा बढ़ाएँ

यदि आप एक BLOGGER हैं और आपने एक ब्रांड नाम से एक BLOG बनाया है, तो यदि आप इसकी प्रतिष्ठा रखना चाहते हैं, तो आपको OUALITY की CONTENT लिखनी होगी। ताकि आपके ब्रांड का नाम बना रहे। और लोगों को उस ब्रांड नाम को जानना चाहिए और यह मानना ​​चाहिए कि केवल QUALITY की CONTENT यहां देखी गई है।

HIGH OUALITY वाली CONTENT कैसे लिखें


  यदि आप अपने BLOG में HIGH CONTENT, HIGH OUALITY वाली CONTENT लिखना चाहते हैं, तो आपको कुछ बातों का ध्यान रखना होगा जो इस प्रकार हैं।


 अपने पाठकों को पहचानो

दोस्तों, यदि आप अपने BLOG पर एक दैनिक ARTICLE पोस्ट करते हैं, तो आपको अपने BLOG पर टिप्पणी पढ़नी होगी या यदि आपका BLOG नया है, तो आप इससे संबंधित अन्य BLOG देख सकते हैं कि READER टिप्पणी में क्या देख रहे हैं पाठकों को किस तरह की CONTENT चाहिए? यदि आप उस प्रकार का ARTICLE लिखते हैं जो READER चाहते हैं, तो READER आपके BLOG पर बढ़ने लगेंगे।

सरल भाषा का प्रयोग

 दोस्तों, आपको अपने ARTICLE में सरल भाषा का उपयोग करना है। अनुच्छेद कितना भी बड़ा हो, कितना भी छोटा क्यों हो। लेकिन इस तरह से आपको उन जानकारियों को समझाना होगा जो आप वास्तव में दर्शकों या अपने पाठकों तक पहुँचाना चाहते हैं। और यदि READER आपके ARTICLE को पढ़ते हैं और उस जानकारी को समझते हैं, तो आपके ARTICLE को HIGH-OUALITY की CONTENT कहा जाएगा।

 READER की समस्या को दूर करें और अपने व्यवसाय को बढ़ाने की कोशिश करें।

ज्यादातर ऐसा होता है कि यदि कोई व्यक्ति BLOG या ARTICLE लिखता है, तो वह सोचता है कि मैं Google पर या किसी अन्य SEARCH ENGINE पर जैसे YAHOO BING इत्यादि पर अपना BLOG या ARTICLE कैसे रैंक करूं। लेकिन वह कभी यह नहीं सोचते कि एक READER क्या चाहता है कि उसका BLOG कैसा हो? सबसे महत्वपूर्ण बात यह है कि हमें यह समझना होगा कि READER क्या चाहता है।

   HIGH-QUALITY CONTENT के क्या फायदे है?

एक HIGH-QUALITY CONTENT वाला ARTICLE विजिटर को तो पसंद आयेगा ही इसे SEARCH engine भी पसंद करता है, और यह SEARCH इंजन में high रैंकिंग को प्राप्त करता है. 
एक HIGH-QUALITY CONTENT ज्यादा VISITOR को आकर्षित करता है.
इससे नए VISITOR BLOG पर दुबारा आते है. 
HIGH-QUALITY CONTENT से BLOG SEARCH इंजन में high-rank पाता है. जिससे GOOGLE RANK इम्प्रूव होता है.
Alexa rank भी इससे IMPROVE होता है.
यदि आप Google Adsense का USE करते है तो Adsense CPC increase होता है. जिससे ADSENSE इनकम बढ़ जाता है.
BLOG के ब्रांड को IMPROVE करता है. जिससे BLOGGING के क्षेत्र में BLOG को एक नयी पहचान मिलती है.

दोस्तों, अंत में, आपको एक बात और समझनी होगी कि यदि आप लंबे समय तक BLOG चलाना चाहते हैं, तो आपको अपने और अपने पाठकों के बीच एक मजबूत रिश्ता बनाना होगा। जिससे आपकी फॉलोइंग भी बहुत बढ़ जाएगी। और लोगों को आपके BLOG का नाम पता चल जाएगा। और फिर वह अक्सर अपनी समस्याओं का हल खोजने के लिए उसी BLOG पर आता था।

दोस्तों, आपको अपने विषय से संबंधित जानकारी देनी होगी, इसके अलावा आप पाठकों को गुमराह करें। ताकि पाठकों का विश्वास आप पर बना रहे और आपके BLOG का ब्रांड नाम पता रहे। इस प्रकार से जब लोगो का आप के BLOG पर TRUST बन जाएगा तब आपके BLOG या WEBSITE पर TRAFFIC भी बढ़ने लगेगा। 

 इसे भी पढ़ें:-  Copyright Content Check Karne Ke Liye 2019 Ki 5 Popular Website



0 comments: